Tags

, ,

This book is on self development and improvement. The book is written in Hindi language. Very soon, the translation is other languages will be available too.

Sample text:

“जब मै बड़ा होकर इंजिनियर बनूँगा तब भारत के बिजली की समस्या और ट्रैफिक की समस्या के लिए काम करूँगा”। २००६ में यह मेरे बेटे ने “बड़े हो कर क्या करोगे?” प्रश्न के जबाब में कहा था। तब वह मात्र ९ वर्ष था। आपका भी कुछ सपना हो सकता है। सपना साकार भी उसी का होता है जो सपने देखता है।

यदि आपने इस पुस्तक को अपने हाथ में उठाया है, तब आप विश्व के उन महान लोगों में से एक है जो अपनी शक्ति को विकसित करने में विश्वास रखते है। आप अपने जीवन में अवश्य ही कुछ करना चाहते है और अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए अपने गुण को और तराशना चाहते है। आप वास्तव में बधाई के पात्र है, मै आपका स्वागत करता हूँ।

जीवन में कभी भी निराश होने की जरूरत नहीं है। हताशा मनुष्य को पराजय के सम्मुख अति शीघ्र ला कर खड़ा कर देती है। आत्म शक्ति का ज्ञान मनुष्य को सर्वदा नए विकास एवं सफलता की तरफ ले जाता है। किन्तु ऐसा मनुष्य ईश्वर का भी अति प्यारा होता है और उसका सहारा भी होता है। ईश्वर उसके माध्यम से अपने कार्य और बहुत से लोगों की भलाई भी करता है, इसलिए जीवन में उसको कुछ कष्ट भी उठाना पड़ता है। दीपक स्वयं जलता है किन्तु दूसरों को प्रकाश देता है. अन्धकार में डूबा व्यक्ति सदैव दीपक को ही खोजता है। इसलिए कठिन समय में घबडाना नहीं चाहिए।

Purchase link: http://www.amazon.com/Increase-Internal-Power-Hindi-Edition/dp/1497467578/ref=sr_1_2?ie=UTF8&qid=1401028921&sr=8-2&keywords=neeraj+pandey

Advertisements